2020 सल्फर सीमा को लागू करना

ऐश्वर्य लक्ष्मी द्वारा पोस्ट किया गया5 फरवरी 2018
अंतर्राष्ट्रीय मैरिटाइम संगठन
अंतर्राष्ट्रीय मैरिटाइम संगठन

बोर्ड जहाजों पर (ईंधन तेल में 0.5%) सल्फर की सीमाएं (नामित उत्सर्जन नियंत्रण क्षेत्र के बाहर) 1 जनवरी 2020 को लागू होंगी।

0.50% की आवश्यकता के अनुरूप कार्यान्वयन सुनिश्चित करना अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन (आईएमओ) प्रदूषण निवारण और प्रतिक्रिया (पीपीआर) पर उप-समिति के एजेंडे पर एक प्रमुख वस्तु है जो आईएमओ मुख्यालय, लंदन में इस सप्ताह (5-9 फरवरी) से मिलता है । बैठक से शिपिंग से काले कार्बन उत्सर्जन को मापने के तरीके पर भी ध्यान देना जारी रहेगा।
एजेंडा में अन्य मामलों में गिट्टी पानी के नमूने और विश्लेषण सहित बेलस्ट वॉटर मैनेजमेंट कन्वेंशन के कार्यान्वयन के समर्थन के लिए आगे के मार्गदर्शन का विकास शामिल है।
समुद्र में तेल प्रदूषण का मुकाबला करने के लिए dispersants के उपयोग के लिए संशोधित दिशानिर्देश, जो गहरे पानी क्षितिज घटना से खाते का अनुभव लेते हैं, को अंतिम रूप देने की उम्मीद है।
थोक में रसायनों की गाड़ी के लिए अंतर्राष्ट्रीय कोड के उत्पाद सूचियों और सूचकांक में निरंतर संशोधन जारी रहेगा, साथ ही उच्च चिपचिपाहट के निर्वहन और सतत फ्लोटिंग उत्पादों (जैसे कुछ वनस्पति तेलों) के निर्वहन को संबोधित करने के लिए आवश्यकताओं पर विचार किया जाएगा। सम्मेलन में हानिकारक एंटी-फॉलिंग सिस्टम्स (एएफएस कन्वेंशन) के नियंत्रण के लिए सम्मेलन में बायोकैड साइबट्र्रीन पर नये नियंत्रण शामिल करने पर भी बैठक होगी।
बैठक आईएमओ के सचिव-जनरल किटकक लिम द्वारा खोली गई थी और इसे श्री सेनिंग ओफ्टेडल (नॉर्वे) की अध्यक्षता में किया जा रहा है।
श्रेणियाँ: कानूनी, पर्यावरण, महासागर अवलोकन, समाचार